मैदा सेहत पर क्या असर डालता है क्या-क्या नुकसान हमारे शरीर को मैदा खाने से होते है मैदा खाना हमारे लिए सही या गलत ?

 

Maida Khane Ke Fayde Aur Nuksan - मैदा खाना हमारे लिए सही या गलत
Maida Khane Ke Fayde Aur Nuksan - मैदा खाना हमारे लिए सही या गलत

आज कल के खान-पान में मैदा [Maida Khane Ke Nuksan] उपयोग एक आम बात है सुबह के नाश्ते से ले कर रात के खाने तक में मैदा का उपयोग किया जा रहा है | खाने को अच्छा और उसका स्वाद अच्छा करने के लिए इसका उपयोग किया जाता है |

कई प्रकार के व्यंजन मैदा से बनाए जाते है जैसे : समोसे, नूडल्स, मोमोज, गुलाब-जामून, बर्फी, केक व पिज्जा आदि को बनाने के लिए मैदा ही उपयोग किया जाता है | मगर यह खाना जितना स्वाद से भरा हुआ है उतना ही सेहत के लिए हानिकारक भी है |

क्या है मैदा कैसे बनाया जाता है : 

मैदा जिसे व्हाइट फ्लॉर और रिफाइंड फ्लॉर कहा जाता है यह गेंहू से ही बनाया जाता है | जब मैदा बनाया जाता है तो गेंहू की उपरी परत को हटा दिया जाता है इसके सिर्फ सफ़ेद रंग का स्टार्च ही बाकी रह जाता है जिसको पीस कर मैदा तैयार किया जाता है |

जब गेंहू की उपरी परत को हटा दिया जाता है तो इसके साथ-साथ सारे पोषक तत्व भी निकल जाते है और यह सेहत के लिए अच्छा नही होता है |

मैदा सेहत पर क्या असर डालता है क्या-क्या नुकसान हमारे शरीर को मैदा खाने से होते है आज के लेख मैदा खाने के नुकसान [Maida Khane Ke Nuksan] कुछ हानिकारक या नुकसान नीचे बताये गए है |

कमजोर इम्‍यूनिटी सिस्टम

हमारे शरीर की सभी कोशिकाओं को सुचारू रूप से काम करने के लिए उपयुक्त मात्रा में पोषण की आवश्यकता होती है और अगर हम मैदा का सेवन करते है तो शरीर को पर्याप्त मात्रा में जरुरी पोषण प्राप्त नही हो पाता और पोषण की कमी से हमारा इम्युनिटी सिस्टम कमजोर हो जाता है |

धीरे-धीरे हमारी रोगों से लड़ने की क्षमता कम हो जाती है और हम कई प्रकार की बीमारियों से पीड़ित हो जाते है |

हड्डियां में कमजोरी

अगर आप अपने खाने में मैदा का अधिक उपयोग करते है तो आपके शरीर की हड्डियां कमजोर हो सकती है | क्युकी मैदा में हड्डियों के लिए आवश्यक पोषक पदार्थ मोजूद नही होते है |

गेंहू से मैदा बनाते समय इसके सभी खनिज, विटामिन और आवश्यक पोषक तत्व नष्ट हो जाते है और सिर्फ स्टार्च ही बचा रह जाता है | इसी कारण शरीर में धीरे-धीरे इनकी मात्रा कम होती है और हड्डियाँ कमजोर हो जाती है |

मैदा से पाचन संबंधी समस्याएं

मैदा युक्त खाने का सेवन करने से पाचन से जुड़ी बीमारी भी हो सकती हैं। इसका कारण भी मैदा बनाते समय गेंहू की उपरी परत को हटाने से होने वाला न्यूट्रिएंट का नुकसान है। गेंहू से मैदा बनाते समय होने वाली रिफाइनिंग की वजह से गेंहू में उपस्थित विटामिन और मिनरल्स का नुकसान होता है, जिस वजह से यह पाचन संबंधी समस्या पैदा हो जाती है। साथ ही इसका सेवन करने से हमें कब्ज की समस्या हो सकती है।

मैदा से बने भोजन की लत

अगर आप मैदा से बने खाने का लम्बे समय तक उपयोग करते है तो उन पदार्थों का सेवन करने से उसकी लत भी हमें लग सकती है। जब भी आप अपने घर से बाहर निकलते है तो आपका मन खाने जैसे पाव, बर्गर, मोमो, समोसा पिज्जा आदि को खाने की इच्छा मन में होती है और हम लोग बड़े स्वाद से इनको खाते हैं। इसी लिए कहा जाता है की मैदा युक्त खाद्य पदार्थों को खाने से उनकी लत भी हो सकती है।

जब हम लोग मैदे से बनी चीज को एक बार खा लेते है तो फिर से उसी स्वाद के लिए इसे बार-बार खाने का मन करता है। और यह  धीरे-धीरे आगे चलकर लत का रूप ले सकती है। इसी कारण हमें मैदा से बनी चीजों के सेवन से बचना चाहिए ताकि हमारी सेहत और शरीर स्वस्थ रहे।

मैदा पैदा करता है आंतों में सूजन

अगर आप अपने खाने में अधिक मात्रा में मैदाकाटे है तो इस से आपको  आंतों की सूजन की समस्या भी हो सकती है। मैदा हमारे शरीर में जा कर आंतों में चिपक सकता है,  और इसके कारण आंतों से जुड़ी कई तरह की बीमारी और समस्याएं पैदा हो सकती हैं। मैदा में कई विटामिन और पोषक तत्वों की कमी होती है अगर हम लगातार मैदा पदार्थों का सेवन करते है तो शरीर में फाइबर की कमी हो सकती है|

 

मैदा से वजन बढ़ने और मोटापे की समस्या

अगर आप मैदा खाने के कुछ जादा ही शोकिन है तो सावधान हो जाए क्युकी इसका सेवन करने से वजन बढ़ने और मोटापा की समस्या हो सकती है। हमारे खाने में मैदा से बने फास्ट फूड को हमारा पेट आसानी से पचा नही सकता। और कम पचने के कारण यह हमारे पाचनतंत्र को नुकसान करता हैं। यह ठीक प्रकार से न पचने के कारण हमारे शरीर में अनेक पाचन और पेट संबंधी रोगों को जन्म देता है जिसमें मोटापा भी शामिल है और यह मोटापा आगे चल कर कई प्रकार की अन्य बीमारियों का भी कारण बनता है। अगर आपको मोटापे की समस्या है तो आज से ही मैदा खाने से दूर हो जाए|

 

आज के इस लेख में आपने मैदा खाने से होने वाली समस्याओं को जाना है मैदा का अधिक सेवन सेहत के लिए कितना नुकसानदायक हो सकता है यह अब आपने जान लिया है। अगर हम यह सारी जानकारी लेने के बाद भी सतर्क नही हुए तो हमारे स्वास्थ को खतरा हो सकता है हमारी उम्मीद है की इस लेख को पढ़ने के बाद इसके सेवन को कम करके अपने शरीर को स्वस्थ रखेंगे। अगर आप अब भी स्वाद के लिए सेहत से समझौता करना चाहते है तो हो सकता है  आगे चलकर परेशानी का सामना करना पड़े |